गाईड लाईन का उल्लंघन कर ऑक्सीजन सिलेण्डर रिफिल कराने वाले उद्योगों पर लगाये प्रतिबंध-कलेक्टर, अंतरराज्यीय चेक पोस्ट पर लगातार करें कोविड टेस्टिंग

by bharatheadline

रायगढ़।ऑक्सीजन गैस सिलेंडर रिफिल करने वाली एजेंसियों द्वारा कुछ उद्योगों द्वारा दबाव डालकर सिलेंडर रिफिलिंग कराने की बात सामने आई, जिस पर कलेक्टर श्री भीम सिंह ने सभी एसडीएम को अपने-अपने क्षेत्रों के उद्योगों की जांच करने और सिलेंडर उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शासन के निर्देश अनुसार अभी ऑक्सीजन का मेडिकल पर्पज में ही उपयोग किया जाना है। इसका उल्लंघन करने वालों पर कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश उन्होंने दिए।
कलेक्टर श्री भीम सिंह ने आज साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने मेडिकल कालेज व केआईटी कालेज में ऑक्सीजनेटेड व आईसीयू बेड की स्थिति की जानकारी ली। इस पर कलेक्टर श्री सिंह ने दोनों ही जगह बेड की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। इसी तरह कलेक्टर श्री सिंह के समक्ष कुछ उद्योगों द्वारा दबाव बनाकर ऑक्सीजन सिलेंडर की रिफिलिंग कराने की बातें सामने आई। इस पर कलेक्टर श्री सिंह ने जिले के सभी एसडीएम को अपने-अपने क्षेत्रों के उद्योगों की जांच करने और शासन द्वारा जारी गाइड लाइन के पालन नहीं करने वाले उद्योगों पर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही।
कलेक्टर श्री सिंह ने अंतरराज्यीय सीमा जैसे रेंगालपाली, एनटीपीसी लारा, महापल्ली, एकताल, बरमकेला व अन्य ब्लाक के चेक पोस्ट पर गंभीरता से आने वाले लोगों की जांच करने के निर्देश दिए। इस दौरान कलेक्टर श्री सिंह ने 72 घंटे के भीतर का नेगेटिव रिपोर्ट रखने वाले व्यक्तियों को जाने देने तथा बिना रिपोर्ट लक्षण वाले व्यक्तियों की जांच करने व रिपोर्ट के आधार पर आवश्यकतानुसार उन्हें क्वारेन्टीन सेंटर भेजने और हॉस्पिटल में एडमिट कराने के निर्देश दिए। बिना लक्षण वालों को 07 दिन के लिए क्वारेन्टीन करने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि दूसरे प्रदेश से रेल से आने वालों की जांच और क्वारेन्टीन सेंटर भेजने का कार्य गाइड लाइन अनुसार हो। इसी तरह बस से आने वालों की जांच और उन्हें क्वारेन्टीन सेंटर भेजने का कार्य भी करना है। कलेक्टर श्री सिंह ने बाइपेप मशीन, वेंटिलेटर खरीददारी के लिए सतत् संपर्क करने के लिए सहायक कलेक्टर सुश्री रोमा श्रीवास्तव को निर्देशित किया। मशीन की सप्लाई होने पर खरसिया, सारंगढ़, धरमजयगढ़ में जरूरत के हिसाब से ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ अन्य मशीन उपलब्ध कराने के निर्देश सीएमएचओ डॉ.एस.एन.केशरी को दिए।  
इसके बाद मितानिन को दिए जाने वाले दवाइयों की किट के संबंध चर्चा की गई। इसमें लक्षण आने वाले मरीजों को शासन के गाइड लाइन के अनुसार कोरोना दवाइयां उपलब्ध कराने की बात जिला पंचायत सीईओ डॉ. रवि मित्तल ने कही। कलेक्टर श्री सिंह ने शासन से पर्याप्त मात्रा में दवाइयों की मांग करने और गांव के मितानिन किट में कोरोना की दवाइयां उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। बैठक में अपर कलेक्टर श्री राजेंद्र कटारा, निगम कमिश्नर श्री आशुतोष पाण्डेय, ज्वाइंट कलेक्टर श्री सुमित अग्रवाल सहित डिप्टी कलेक्टर सभी विभाग प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।
समय पर मिले जांच रिपोर्ट
कलेक्टर श्री सिंह ने कोरोना जांच रिपोर्ट मिलने में देर होने संबंधी शिकायतों पर चर्चा की। इस दौरान उन्होंने तय समय पर जांच रिपोर्ट देने और उसके बाद गंभीर मरीजों को अस्पताल और सामान्य मरीजों को होम आइसोलेशन में रखने संबंधित कार्रवाई करने के निर्देश सीएमएचओ डॉ.एस.एन.केशरी को दिए। इसी तरह कलेक्टर श्री सिंह ने होम आइसोलेटेड मरीजों की डाक्टरों द्वारा डेली अपडेट लेने और जरूरत पडऩे पर उन्हें तत्काल अस्पताल में भर्ती करने निर्देशित किया। कलेक्टर श्री सिंह ने हर तीन घंटे में अस्पतालों में सामान्य, ऑक्सीजनेटेड और वेंटीलेटर, आईसीयू बेड की संख्या अपडेट करने की बात कही।
आयुष्मान कार्ड का लाभ मिले, इसकी गंभीरता से हो मानिटरिंग
समय-सीमा की बैठक में जिला पंचायत सीईओ ने बताया कि वर्तमान में निजी अस्पतालों में भर्ती मरीजों को आयुष्मान कार्ड का लाभ नहीं के बराबर दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों के आकड़ों के अनुसार एक-दो कोरोना के भर्ती मरीजों को आयुष्मान कार्ड का लाभ मिल पाया है। इस पर कलेक्टर श्री सिंह ने सीएमएचओ डॉ.केशरी को टीम बनाने और सभी निजी अस्पतालों में इसकी मॉनिटरिंग कर हर रोज रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। हितग्राहियों को आयुष्मान कार्ड का लाभ नहीं देने वाले अस्पतालों में सख्त कार्रवाई करने की बात कलेक्टर श्री सिंह ने कही।
केआईटी में सीसीटीवी की व्यवस्था
कलेक्टर श्री सिंह ने केआईटी कोविड अस्पताल में सीसीटीवी को शुरू करने और इसकी मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। इस पर सीएमएचओ डॉ.केशरी ने सीसीटीवी लगने और जरूरत के हिसाब से और कैमरे लगाने की बात कही।
मजदूरों का बनाए जाब कार्ड
कलेक्टर श्री सिंह ने दूसरे राज्य से आने वाले मजदूरों का मनरेगा के तहत जॉब कार्ड बनाने के निर्देश जिला पंचायत सीईओ डॉ.रवि मित्तल को दिए। इससे मजदूरों को काम के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। इसी तरह कलेक्टर श्री सिंह ने क्वारेन्टीन सेंटर के समस्त पंजी का संधारण तय फार्मेट पर विधिवत रखने के निर्देश दिए।
वर्मी कंपोस्ट भंडारण की व्यवस्था के निर्देश
बैठक में शासन की महत्वपूर्ण गोधन न्याय योजना पर कलेक्टर श्री सिंह ने चर्चा की। इस दौरान जिला पंचायत सीईओ डॉ.रवि मित्तल ने वर्मी कंपोस्ट की भंडारण और विक्रय व्यवस्था करने की बात कही। इस पर कलेक्टर श्री सिंह ने कृषि विभाग व संबंधित अधिकारियों को जिले के गोठान स्थित वर्मी कंपोस्ट के भंडारण करने और किसानों, शासकीय विभागों से संपर्क कर विक्रय करने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

Related Posts

Leave a Comment