देश में कोरोना से दो नहीं, 6 लाख लोगों की हुई मौत, स्टडी में चौंकाने वाला दावा

by bharatheadline

कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने देश को झकझोर कर रख दिया है। भारत में तेजी से कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है, जबकि मृतकों का आंकड़ा भी रोजाना रिकॉर्ड तोड़ रहा है। वैश्विक महामारी के इस दौर में कई बार मरने वालों के आंकड़ों को छिपाए जाने का भी सरकार पर आरोप लगा है। हाल ही में सामने आई एक स्टडी ने ऐसा दावा किया है, जो इन आरोपों को सही साबित कर रही है। दरअसल, स्टडी में कहा गया है कि भारत, अमेरिका समेत कई देशों में कोरोना से मरने वालों की संख्या कई गुना अधिक है। सरकारी आंकड़े काफी कम हैं। भारत में यह संख्या वास्तविक रूप से छह लाख से अधिक बताई गई है, जबकि सरकारी आंकड़ों की माने तो अब तक देश में दो लाख से ज्यादा मरीजों की कोविड-19 संक्रमण से मौत हो चुकी है।
यूनिवर्सिटी ऑफ वॉशिंगटन इंस्टीट्यूट फॉर हेल्थ मैट्रिक एंड इवेल्यूऐशन (IHME) ने यह स्टडी की है, जिसमें दावा किया गया है कि कई देशों ने कोरोना मृतकों का आंकड़ा काफी कम करके दिखाया है। इसके अनुसार, कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए अमेरिका में 9 लाख से ज्यादा लोगों की संक्रमण की वजह से जान चली गई। जबकि सरकार ने यह आंकड़ा 5.7 लाख का बताया है। महामारी की वजह से दूसरे नंबर पर सबसे ज्यदा हुए भारत में कोरोना मृतकों का आंकड़ा 6.5 लाख बताया गया है, जबकि आधिकारिक रूप से यह 2.2 लाख ही है। इस हिसाब से तीन गुना ज्यादा लोगों की मौत कोरोना के चलते हुई है।
टाइम्स ऑफ इंडिया ने स्टडी के हवाले से बताया है कि मैक्सिको ने जानकारी दी है कि उनके देश में कोरोना से 2.17 लाख लोगों की जान गई है, जबकि असल में यह संख्या 6.17 लाख है। वास्तविक आंकड़े सामने नहीं आने के पीछे वजह बताई गई है कि ज्यादातर देशों में वे ही मौतें दर्ज हो पाती हैं, जोकि अस्पतालों में होती हैं।
रिपोर्ट में कहा गया है, ”रूस और मिस्त्र में भी कोरोना के सरकारी आंकड़े काफी गलत हैं। रूस में पांच गुना ज्यादा लोगों की मौत हुई है, जोकि 1.09 लाख है। वहीं, मिस्त्र में यह संख्या 1.7 लाख तक हो सकती है, जोकि उसकी सरकारी संख्या की तुलना में 13 गुना ज्यादा है। हालांकि, रिपोर्ट में चीन का कोई जिक्र नहीं किया गया है। चीन में कोरोना से अभी तक 4,636 लोगों की जान गई है, लेकिन ज्यादातर देशों का मानना है कि चीन ने गलत आंकड़े पेश किए हैं। वास्तविक तौर पर कोरोना से चीन में बड़ी संख्या में जान गई है, लेकिन शी जिनपिंग सरकार ने आंकड़ों से खेल किया है।

देश में पहली बार सामने आए 4,14,188 नए मामले
भारत में कोविड-19 के एक दिन में रिकॉर्ड 4,14,188 नये मामले सामने आने के बाद कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 2,14,91,598 हो गए जबकि देश में 36 लाख से अधिक मरीज अब भी इस बीमारी की चपेट में हैं। यह एक दिन में किसी भी देश में मिले कोरोना संक्रमितों की संख्या के मामले में सबसे ज्यादा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार को सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 3,915 लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या 2,34,083 हो गई है। लगातार बढ़ते मामलों के बीच उपचाराधीन मरीजों की संख्या 36,45,164 हो गई है जो संक्रमण के कुल मामलों का 16.96 प्रतिशत है जबकि देश में कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर घटकर 81.95 प्रतिशत हो गई है।

Related Posts

Leave a Comment