स्वास्थ्य के नाम पर सियासत ना हो – अशोक

by bharatheadline

सारंगढ़ । स्थानीय नगर के युवा ठेकेदार अ वर्ग अशोक केजरीवाल का कहना है कि- देश संक्रमण काल से गुजर रहा है । कोरोनावायरस की दूसरी लहर ने ऐसा कहर ढाया है कि – देश में मायूसी फैल गई है । कोरोना संक्रमितओं की संख्या अब प्रतिदिन चार लाख से ऊपर पहुंच गई है । वही मृतकों की संख्या भी बढ़ती जा रही है । कारोबार , व्यापार सारे थम से गए हैं । रियल स्टेट , शेयर मार्केट में खामोशी छाई हुई है । देश में आए कोरोना रूपी इस आपदा को देखकर दुनिया के तमाम देश हमारी मदद के लिए हाथ बढ़ा रहे हैं । लेकिन इस देश का दुर्भाग्य ही कहा जाएगा कि – इस विपत्ति के समय में भी अनेक पार्टियों देश की सेहत के नाम पर, स्वास्थ्य के नाम पर सियासत करने में बाज नहीं आ रही है । राज्य सरकारें नाकामी का ठीकरा केंद्र सरकार के सिर पर फोड़ कर अपनी जिम्मेदारी से भागने का काम कर रही है । वही केंद्र सरकार अपनी जिम्मेदारियों का ठीकरा राज्य सरकार पर फोड़ते हुए नजर आ रही । वैसे भी दूसरी लहर आने की संभावना सरकार ने अभिव्यक्त की थी । पर सभी राज्य सरकारें कुंभकरण की नींद में सोती रही । यहां तक की केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देशों का पालन कराने में भी असावधानी बरती गई । नतीजा कोरोना वायरस का कहर भयावह रूप से टूटा है । अब ऐसे स्थिति में राज्य सरकार , केंद्र सरकार पर केंद्र सरकार, राज्य सरकार पर आरोप लगा रही है । लेकिन यह समय आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति करने का कतई नहीं है । होना तो यह चाहिए की इस आपदा की घड़ी में सभी राजनीतिक पार्टियां दलगत भावना से ऊपर उठकर एकजुटता का परिचय दें । ताकि इस चुनौती का सामना कर सके और स्वास्थ्य के नाम पर चल रही सियासत बंद हो सके ।

Related Posts

Leave a Comment