चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ से कर्नाटक में 4 की मौत, कई राज्यों में अलर्ट

by bharatheadline

चक्रवात तौकते (Tauktae) रविवार सुबह गोवा के समुद्री तट से टकरा गया। यहां समुद्र में ऊंची लहरें उठ रही हैं। गोवा के तट पर तेज हवाओं के साथ-साथ मूसलाधार बारिश भी हो रही है। यहां कई पेड़ भी सड़क पर गिर गए हैं। भारतीय वायुसेना ने बताया कि उन्होंने अगले कुछ दिन तटीय इलाकों में कोविड-19 राहत अभियान पर ध्यान केंद्रित करने का फैसला किया है क्योंकि खराब मौसम की वजह से बाद में इन इलाकों में अभियान प्रभावित हो सकता है।
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के चक्रवात चेतावनी प्रभाग के मुताबिक, दक्षिण महाराष्ट्र-गोवा तथा इससे सटे हुए कर्नाटक के तटों पर हवा की गति 70-80 से लेकर 90 किलोमीटर प्रतिघंटे तक हो सकती है और 16 मई को उत्तर महाराष्ट्र के तटों के पास हवा की गति 40-50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे तक हो सकती है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार को बताया, “इसके उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने और 17 (मई) की शाम तक गुजरात तट पर पहुंचने की बहुत संभावना है और यह 18 मई को तड़के पोरबंदर और (भावनगर जिले में) महुवा के बीच से राज्य के तट को पार करेगा।” आईएमडी ने कहा कि उसने गुजरात तथा दमन एवं दीव के लिए येलो अलर्ट जारी किया है।
आईएमडी ने बताया कि 18 मई तक हवा की गति 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे तक बढ़ने के आसार हैं जबकि कुछ वक्त के लिए हवा की गति 175 किलोमीटर प्रति घंटे तक भी पहुंच सकती हैं।

-रविवार सुबह ये तूफान गोवा के समुद्री तट से टकरा गया। यहां समुद्र में ऊंची लहरें उठ रही हैं। गोवा के तट पर तेज हवाओं के साथ-साथ मूसलाधार बारिश भी हो रही है। यहां कई पेड़ भी सड़क पर गिर गए हैं।
-चक्रवात ‘तौकते’ के मद्देनजर राहत एवं बचाव कार्य के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) ने अपनी टीमों की संख्या 53 से बढ़ाकर 100 कर दी है।
-तौकते को लेकर कई राज्यों में अलर्ट जारी है। एक तरफ जहां कर्नाटक में साइक्लोन के बीच तेज बारिश की वजह से 4 लोगों की मौत हो गई और राज्‍य में कुल 73 गांव चक्रवाती तूफान से प्रभावित हुए हैं।
-महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग और रत्नागिरि जिलों के साथ गोवा ज्यादातर बारिश और तेज हवाओं से प्रभावित होगा। हवा की गति लगभग 60 से 70 किमी प्रति घंटे होगी। तूफान गोवा के समुद्री तट से टकरा गया है। यहां समुद्र में ऊंची लहरें उठ रही हैं। गोवा के तट पर तेज हवाओं के साथ-साथ मूसलाधार बारिश भी हो रही है। यहां कई पेड़ भी सड़क पर गिर गए हैं।
-तूफान ‘तौकते’ के कारण दक्षिणी राजस्थान के जोधपुर, उदयपुर, अजमेर व कोटा संभाग के जिलों में आंधी और बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी। इस दौरान 40 से 50 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवायें चलेंगी।
-मुंबई में बीएमसी ने इस तूफान के चलते शुक्रवार को शहर के अस्पतालों को सतर्क किया था कि बिस्तरों और ऑक्सीजन उपकरणों की उपलब्धता को लेकर अंतिम समय में कोई अव्यवस्था नहीं हो। अधिकारी ने बताया कि मुंबई में उपनगरीय रेल सेवा रविवार को जारी रहेगी। आईएमडी ने शनिवार को कहा था कि ‘तौकते’ और मजबूत हो गया है और यह गुजरात तट एवं केंद्र शासित प्रदेश दमन-दीव एवं दादरा-नगर हवेली तट की ओर बढ़ रहा है।

Related Posts

Leave a Comment