साउथ इंडिया शिरडी साईं कैरियर के ओनर ने फ्रंटलाइन वारियर्स के लिए किया मास्क वितरण

by bharatheadline

रायगढ़ शुरू से ही दानवीर सेठ किरोड़ीमल जी के नाम से मशहूर है, रायगढ़ को दानवीरों की नगरी भी कहा जाता है, किसी भी आपदा के आने पर रायगढ़ शहर पूरा एक होकर एक दूसरे की मदद में खड़ा नजर आता है, चाहे वह बाढ़ का समय रहे या अन्य किसी भी प्रकार की कोई प्राकृतिक आपदा।
सभी समय रायगढ़ के दानवीर आगे आकर हर संभव मदद आम जनता की करते हैं, इस कोरोनावायरस महामारी के समय भी रायगढ़ के सभी समाज सेवी संगठन एवं अन्य दान दाताओं ने शासन प्रशासन के साथ-साथ आम जनता की भी भरपूर मदद करते आ रहे हैं, जिसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए कम है।
चाहे वह राशन वितरण की बात करे, खाना खिलाने की बात करे या अन्य किसी प्रकार की कोई मदद, यहां तक कि रायगढ़ पुलिस प्रशासन भी हेल्प डेस्क के माध्यम से आम जनता का सहयोग कर रही है ओर निगम द्वारा भी राशन वितरण किया जा रहा है।
ऐसे ही एक रायगढ़ के ट्रांसपोर्ट कार्य से जुड़े साउथ इंडिया शिरडी साईं कैरियर के ओनर बसंत कुमार चौधरी जी है, जिन्होंने फ्रंटलाइन वारियर्स के लिए मास्क और सैनिटाइजर का सहयोग करने का निर्णय लिया, क्योंकि फ्रंटलाइन वारियर्स हर जगह मौजूद होते हैं, जिन्हें संक्रमण का खतरा सबसे ज्यादा रहता है, इसी के मद्देनजर संक्रमण से बचने के लिए उन्होंने मास्क ओर सेनीटाइजर देने का निर्णय किया और शहर के सभी थानों में मास्क और सैनिटाइजर वितरण किया।
साथ ही साथ पत्रकार जो कि फील्ड में घूम कर संक्रमण के बीच रहकर हम सबको सभी प्रकार की जानकारी हमको अपने घरों तक पंहुचा रहे है, जिनकी बदौलत हमको देश दुनिया का हाल एवं अन्य मेडिकल सुविधा संबंधी जानकारी प्राप्त हो जा रही है।
अपनी जान की बगैर परवाह किए सभी पत्रकार संक्रमित जगहों पर भी जाकर वहां की खबरें आम जन तक पहुंचा रहे हैं, इसी के मद्देनजर उन्होंने पत्रकारों को भी N 95 मास्क वितरण करने का निर्णय लिया और लगभग रायगढ़ के 40 से 45 पत्रकारों को N 95 मास्क वितरण किया, और सभी की स्वास्थ लाभ की कामना की।
इसको कोरोना काल के समय सभी वर्गों का ध्यान सभी समाज सेवी एवं जिला प्रशासन द्वारा दिया जा रहा है, पर पत्रकारों की सुध लेने वाला कोई भी नहीं इस समय बसंत कुमार जी ओर उनके साथ अखिलेश मिश्रा और विजय यादव के कार्य की सभी ने सराहना की है। जिन्होंने पत्रकारों के बारे में सोचा और मदद के लिए आगे आए निश्चित तौर पर वे सभी साधुवाद के पात्र हैं।

Related Posts

Leave a Comment