छह साल के चोर के कारनामों ने पुलिस को किया हैरान, जेब में नोटों की गड्डी, छुट्टा वापस नहीं लेता ‘छोटा डॉन’

by bharatheadline

अपने जमाने की सुपर डुपर हिट रही फिल्‍म दीवार में ‘मैं आज भी फेंके हुए पैसे नहीं उठाता….’ वाला डॉयलाग भूले नहीं होंगे आप। महराजगंज में छह साल के एक छोटे से बच्‍चे में ‘दीवार’ के उस किरदार के कारनामों की झलक देखकर पुलिसवाले भी हैरान हैं। इतनी छोटी सी उम्र में इस बच्‍चे की जेब हमेशा नोटों की गड्डी से भरी रहती है और तेवर ऐसे कि दुकानदार से सिगरेट खरीदते वक्‍त जेब से जो भी नोट निकल गया उसमें से बचे पैसे (छुट्टा) वापस नहीं लेता ये बच्‍चा।
‘छोटा डॉन’ के शातिर कारनामों के आगे बड़े-बड़े चोर भी फेल हैं। ये डॉन शॉपिंग मॉल और दुकानों में चोरी की बड़ी-बड़ी वारदातों को अंजाम देने के लिए महराजगंज में कुख्‍यात होता जा रहा है। बड़े-बड़े धुरंधर हैरान हैं। ‘छोटा डॉन’ को पुलिस जब भी पकड़ती है उसकी जेब से नोटों की गड्डी मिलती है। सिर्फ छह साल की उम्र में इस बच्‍चे की हरकतों से पुलिस ही नहीं बल्कि शहर के कारोबारी भी परेशान हैं। उनकी शिकायत पर कई बार पुलिस ने इसे पकड़ा, जेब मतें 50 हजार से एक लाख रुपए तक के नोट मिले लेकिन कोई कार्रवाई नहीं कर सकी। छह साल की मामूली उम्र और भोली सूरत के आगे पुलिस के हर जतन फेल हो जाते हैं। पुलिसवाले जैसे ही सख्‍ती करते हैं ‘छोटा डॉन’ जोर-जोर से रोने लगता है।
लोगों का कहना है कि इसे रोशनदान, खिड़की और शटर के नीचे जैसे कितनी भी छोटी सी जगह से दुकान में घुस जाने में महारत हासिल है। वारदातों के बाद पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगालती है तो यह बच्‍चा दुकान के इर्द-गिर्द संदिग्‍ध हालत में पाया जाता है। पकड़े जाने पर यह बिल्‍कुल चुप रहता है। पुलिस कई बार उसे थाने ले गई लेकिन कुछ उगलवा नहीं सकी। थाने में भी वह चुपचाप बैठा रहता है। पुलिस वाले यदि डंडा दिखाकर कुछ पूछना चाहते हैं तो बच्‍चा जोर-जोर से रोने लगता है। उसकी हालत देखकर पुलिसवालों को नरमी बरतनी पड़तनी पड़ती है। यहां तक कि जिसकी दुकान में चोरी हुई होती है वो कारोबारी भी पुलिस से इसे छोड़ देने की विनती करने लगता है। अपनी शिकायत वापस ले लेता है। ‘छोटा डॉन’ के डर से अब तक कई कारोबारी अपनी दुकानों में सीसीटीवी कैमरे लगवा चुके हैं। पुलिस हर बार बच्‍चे के परिवारीजनों को सख्‍त हिदायत देकर उसे छोड़ देती है लेकिन कुछ दिन बाद ही बच्‍चा फिर वैसी ही वारदात को अंजाम दे देता है।

शौक सिगरेट पीने का और तेवर ऐसे कि छुट्टा वापस नहीं लेता
‘छोटा डॉन’ को इतनी छोटी सी उम्र में सिगरेट पीने का भी शौक है। उसके तेवर ऐसे हैं कि सिगरेट के लिए जेब से चाहे जितने की नोट निकालकर दे दी तो दे दी, बचे पैसे (छुट्टा) कभी वापस नहीं लेता। इसे वापस लेना वह अपनी शान के खिलाफ मानता है।

क्‍या कहती है पुलिस
वह महज छह साल का है। रुपए गिन भी नहीं पाता है। पुलिस व परिजन उसे समझा कर थक चुके हैं। चोरी के कई मामलों में उसकी संलिप्तता की बातें सामने आती हैं लेकिन लिखित शिकायत नहीं मिल रही है। परिजन उसकी पहरेदारी करते हैं लेकिन रात में निकल जाता है। बहरहाल, पुलिस लगातार गश्‍त कर रही है। उसकी हरकतों पर बराबर नजर है। अब कहीं कोई वारदात नहीं करने दी जाएगी।
मनीष सिंह, कोतवाल

Related Posts

Leave a Comment