खुद को क्राइम ब्रांच का अधिकारी “आदित्य सिंह” बताकर हिंदू लड़कियों को अपने जाल में फंसा कर शादी किया करता आबिद पहले से शादीशुदा और 7 बच्चों के बाप महावीर ने तीन हिंदू महिलाओं को अपनी पहचान छुपा कर शादी के जाल में फंसाया

by bharatheadline

लखनऊ:।उत्तर प्रदेश पुलिस की क्राइम ब्रांच में अधिकारी बनकर और कई युवतियों को अपने जाल में फंसाकर उनसे शादी करने वाले आजमगढ़ के एक विवाहित मुस्लिम व्यक्ति को लखनऊ पुलिस ने धर्म परिवर्तन विरोधी कानून के तहत गिरफ्तार किया है। आरोपी ने तीन हिंदू महिलाओं को अपनी धार्मिक पहचान छुपाकर शादी में फंसाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। जांच से पता चला कि आजमगढ़ में एक मुस्लिम महिला से उसकी पहली शादी से उसके सात बच्चे थे।

ऐसे हुआ खुलासा

आरोपी की हरकतों का तब खुलासा हुआ जब शनिवार को एक महिला ने इंदिरा नगर थाने में आदित्य सिंह उर्फ आबिद हवारी के खिलाफ एक शिकायत दर्ज करायी थी। यूपी पुलिस के एसीपी सुनील कुमार (गाजीपुर) के मुताबिक, महिला ने अपनी शिकायत में कहा कि आबिद नाम के एक व्यक्ति ने आदित्य सिंह के रूप में उससे दोस्ती की। आरोपी ने महिला के अंतरंग वीडियो ऑनलाइन लीक करने की धमकी देकर उससे शादी कर ली और बाद में, उसने महिला से जबरन इस्लाम धर्म परिवर्तन कबूल करवा लिया।

सात बच्चों का बाप है आबिद

उन्होंने कहा कि बाद में जब महिला को आबिद की सच्चाई पता चली तो उसके होश उड़ गए। उसे पता चला कि आबिद पहले से शादीशुदा था और उसके 7 बच्चे थे। इसी साल फरवरी में आबिद ने एक अन्य हिंदू महिला से हिंदू रीति-रिवाज से फिर शादी की। उन्होंने कहा कि भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत एक मामला दर्ज किया गया और आरोपी को इंदिरानगर से गिरफ्तार कर लिया गया। इंदिरानगर पुलिस में प्राथमिकी दर्ज कराते हुए शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि आरोपी आबिद हवारी, जिसने खुद को पुलिस अधिकारी आदित्य सिंह बताया, उसने उसका यौन शोषण किया और उससे 16 लाख रुपये की जबरन वसूली की। उसने आबिद पर अपने किरायेदारों से जबरन किराया वसूलने का भी आरोप लगाया।

Related Posts

Leave a Comment