पढ़े-लिखे हो रहे आनलाइन ठगी के शिकार, सीआरपीएफ के ASI भी ठगी

by bharatheadline

रायपुर। बढ़ते साइबर अपराध को रोकने रायपुर पुलिस लगातार प्रयासरत है, लेकिन बावजूद इसके पढ़े-लिखे नागरिक आनलाइन ठगी के शिकार हो रहे हैं। पुरानी बस्ती पुलिस थाना क्षेत्र में धोखाधड़ी का एक मामला सामने आया है। घटना प्रोफेसर कालोनी निवासी 42 वर्षीय उमेश कुमार बाजपेयी के साथ घटी है। दरअसल, अज्ञात मोबाइल नंबर धारक ने उमेश को काल कर उनके क्रेडिट कार्ड से बने प्वाइंट्स से 8400 रुपए लेस होने का झांसा देते हुए क्रेडिट कार्ड का नंबर पूछा और उनके बैंक आफ बड़ौदा के खाते से लगभग 20 हजार रुपए उड़ा लिए।
उमेश ने पुलिस को बताया कि वह मार्केटिंग का कार्य करता है। पुलिस ने उमेश की रिपोर्ट पर अज्ञात मोबाइल धारक के खिलाफ धोखाधड़ी का अपराध दर्ज कर उसकी तलाश के लिए साइबर टीम की मदद ले रही है। उधर, तेलीबांधा थाना क्षेत्र में भी एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जिसमें CRPF के ASI साधु सिंह के खाते भी ठगों ने पैसे पार कर दिए।
पैसे कट जाने के बाद ठग ने सहायता करने के नाम पर यूपीआई नंबर मोबाइल में डालने कहा। यूपीआई नंबर डालते ही एएसआई के खाते से 81 हजार रुपए पार हो गए। पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ ठगी का केस दर्ज कर लिया है। पीड़ित एएसआई साधु सिंह 65वीं वाहिनी बी कंपनी विधायक कालोनी तेलीबांधा में पदस्थ है।
इसके अलावा तेलीबंद थाने में ही धोखा-धड़ी का भी एक मामला सामने आया है। बैंक से लोन दिलाने का झांसा देकर चार व्यक्तियों से ठगों ने दस्तावेज लिए और फिर सात गाड़ियां बैंक से फाइनेंस करा लीं। बैंक से किस्त नहीं चुकाने के बारे में फोन किया गया, तो मामले का खुलासा हुआ। जोरा निवासी पीड़ित सूरज डहरिया ने

Related Posts

Leave a Comment