गर्भपात के आरोप पर झोला छाप चिकित्सक को पुलिस ने भेजा न्यायिक रिमांड पर

by bharatheadline

अंबिकापुर। दैहिक शोषण की शिकार हुई युवती का गर्भपात कराना झोलाछाप चिकित्सक को महंगा पड़ा। युवती की रिपोर्ट के बाद पुलिस ने गर्भपात कराने वाले झोलाछाप चिकित्सक के साथ पीड़िता के कथित प्रेमी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है। मामला सन 2018 का है। सरगुजा जिले के सीतापुर थाना क्षेत्र के ग्राम रजौटी निवासी विनय खाखा पिता कपिल खाखा का जशपुर जिले के कांसाबेल थाना क्षेत्र की एक युवती से कथित रूप से प्रेम-प्रसंग था।
आरोपित युवती को शादी का प्रलोभन देकर अपने घर ले आया गया था। यहां दोनों लिव इन मे रहने लगे थे। इस दरम्यान युवती गर्भवती हो गई। यह बात जब युवक को पता चला, तो उसने बहला फुसलाकर युवती का गर्भपात करा दिया। इसके बाद से पीड़िता लगातार युवक पर शादी का दबाव बनाने लगी, लेकिन युवक शादी के बहाने उसे झांसा देकर शारीरिक शोषण करता रहा।
युवती जब दोबारा गर्भवती हो गई तो आरोपित उसे सीतापुर स्थिति झोलाछाप चिकित्सक एके सिकदार के यहां ले आया। आरोप है कि झोलाछाप चिकित्सक के सहयोग से उसका दोबारा गर्भपात करा दिया। प्रेमी के इस बर्ताव एवं बाद में शादी से इनकार करने पर युवती अपने घर लौट गई।
उसने मामले की लिखित शिकायत कांसाबेल थाने में दर्ज कराई थी। प्रकरण की जांच का जिम्मा सीतापुर थाने को सौंपा गया। जांच में मामला सही पाये जाने पर धारा 376 एवं 313 के तहत अपराध दर्ज करते हुये पुलिस ने प्रेमी एवं गर्भपात कराने वाले झोलाछाप चिकित्सक को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है।

Related Posts

Leave a Comment