एक वाट्सएप नंबर के जरिए होगा पहली से आठवीं तक के विद्यार्थियों का साप्‍ताहिक मूल्‍यांकन

by bharatheadline

भोपाल। सरकारी स्कूलों के पहली से आठवीं तक के विद्यार्थियों के सीखने की क्षमता का वाट्सएप बेस्ड मूल्यांकन किया जा रहा है। अभी पहली से आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों को हमारा घर-हमारा विद्यालय कार्यक्रम के अंतर्गत पढ़ाई कराई जा रही है। इसका मूल्यांकन प्रति सप्ताह वाट्सएप आधारित किया जा रहा है। अभी तक स्थिति ऐसी है कि सभी जिलों के लिए अलग-अलग वाट्सएप नंबर पर क्विज प्रतियोगिता आयोजित की जाती है। अब सबके मूल्‍यांकन के लिए एक ही वाट्सएप नंबर होगा।
राज्य शिक्षा केंद्र ने सभी जिलों के लिए वाट्सएप नंबर 8595524393 जारी किया है । इसी नंबर पर विद्यार्थियों को लिंक भेजे जाएंगे। इससे बच्चों के मूल्यांकन की सही मॉनीटरिंग होगी। तीन माह पहले शुरू हुए इस प्रक्रिया में अब तक प्रदेशभर से करीब 13 लाख विद्यार्थी शामिल हुए हैं। इसमें करीब तीन से चार लाख बच्चों में सीखने की क्षमता कम पाई गई है। राज्य शिक्षा केंद्र के उपसंचालक केपीएस तोमर ने बताया कि हर हफ्ते बच्चों के लिए क्विज प्रतियोगिता आयोजित की जाती है। पहले हर जिले के लिए अलग-अलग नंबर होते थे। अब एक ही वाट्सएप नंबर जारी किया गया है। वाट्सएप बेस्ड मूल्यांकन में 20 फीसद विद्यार्थी शामिल
प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पहली से आठवीं कक्षा तक में करीब 70 लाख विद्यार्थी अध्ययनरत हैं, लेकिन वाट्सएप बेस्ड मूल्यांकन में सिर्फ 13 लाख विद्यार्थी शामिल होते हैं। यानी अभी भी करीब 20 फीसद विद्यार्थियों को मूल्यांकन हो पा रहा है। वहीं ऑनलाइन कक्षाओं का लाभ भी 30 फीसद विद्यार्थियों को मिल पा रहा है। कई विद्यार्थियों के घर स्मार्टफोन ना होने के कारण भी उनकी पढ़ाई नहीं हो पा रही है।

Related Posts

Leave a Comment