खड़े ट्रक से टकराई बस, तीन की मौत, 22 घायल

by bharatheadline

सागर। सागर-दमोह मार्ग पर गढ़ाकोटा के पास मंगलवार को तड़के करीब तीन से साढ़े तीन बजे के करीब बनारस से इंदौर जा रही एक बस ट्रॉला से टकरा गई। हादसे में तीन लोगों की मौत हुई है। वहीं 22 लोग घायल हो गए, जिन्हें सागर के बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज इलाज के लिए भेजा गया है। जानकारी के मुताबिक बनारस से इंदौर जा रही चौहान ट्रेवल्स कंपनी की बस क्रमांक एमपी 17 पी 1193 गढ़ाकोटा के पास बड़खेरा तिगड्डा पर सड़क किनारे खड़े एक ट्राला से टकरा गई। बस तेज गति में थी, जिससे ट्राला टकराने के बाद करीब पांच फीट अंदर तक बस में धंस गया।
बस की केबिन और आगे का गेट पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। ट्राला आरजे 06 जीबी 7637 बिगड़ जाने की वजह से पिछले तीन दिन से तिगड्डे के पास सड़क किनारे खड़ा था। हादसे में बनारस से सूरत जा रहे 35 वर्षीय माखन यादव, रीवा के सेनुआ निवासी ज्ञान पाल सिंह व 23 वर्षीय सुंदर खेरवार की मौके पर ही मौत हो गई। माखन यादव के भाई विध्यांचल यादव ने बताया कि वे मजदूरी करने के लिए बनारस से सूरत जा रहे थे। रास्ते में अचानक हादस हो गया। इससे उनके भाई की मौत हो गई।
बस का पिछले हिस्सा काटकर घायलों को निकाला
गढ़ाकोटा थाना निरीक्षण प्रशांत मिश्रा ने बताया कि वे रात करीब तीन बजे थाने में ही थे, तभी हादसे की खबर मिली। तत्काल ही मौके पर पहुंचे तो वहां जाकर देखा तो बस पूरी तरह से ट्राला में घुस चुकी थी। बस इस तरह ट्रॉला में फंस चुकी थी कि उसे हिलाना-डुलाना भी मुश्किल था। इसके बाद जेबीसी से बस का पिछला हिस्स तोड़ा गया। इसके बाद बस में फंसे घायलों को बाहर निकाला, जिनकी संख्या 22 के करीब है, उन्हें सागर बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है।
जेसीबी और गैस कटर से काटनी पड़ी बस बॉडी
हादसे के बाद बस का अगला हिस्सा पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया था। स्लीपर बस में इकलौता गेट पूरी से मिटने के कारण निकलने का रास्ता बंद हो गया। घायल यात्री बस के अंदर ही फंसे थे। पुलिस ने गढ़ाकोटा से जेसीबी बुलाई और बस के पीछे का गेट और इमरजेंसी खिड़की तोड़कर घायलों को बाहर निकाला। अगले हिस्से में फंसे लोगों निकालने के लिए गैस कटर से बस की बॉडी काटी गई। सुबह छह बजे तक घायलों को बस से निकालने का काम जारी रहा। बस में 50 से अधिक यात्री सवार थे।
करीब दो दर्जन लोगों को गंभीर चोटें आईं
पहले तो गढ़ाकोटा से 108 एम्बुलेंस आई, लेकिन घायलों की संख्या को देखते हुए रहली, शाहपुर, पथरिया से भी 108 एम्बुलेंस और जननी एम्बुलेंस को बुलाकर घायलों को पहले गढ़ाकोटा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र फिर सागर रेफर किया गया। बस में सवार घायल यात्रियों की संख्या अधिक होने के कारण कुछ को बीएमसी और कुछ को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 108 के द्वारका प्रसाद कुर्मी, संतोष कुर्मी, धमेंद्र प्रजापति और शेरसिंह सहित अन्य थाना क्षेत्र की 108 टीम ने मौके से घायलों को निकाला।

Related Posts

Leave a Comment