इस शहर में नौ महीने बाद अपने मूल ठिकाने पर वापस लौटी थोक सब्जी मंडी

by bharatheadline

बिलासपुर। सरगुजा संभाग मुख्यालय अंबिकापुर के अंतरराज्यीय बस अड्डे में पिछले नौ महीने से संचालित थोक सब्जी मंडी अब अपने वापस पुराने स्थान कंपनी बाजार में पहुंच गई है। कोरोना संक्रमण काल के बाद सब्जी मंडी प्रतीक्षा बस स्टैंड में शिफ्ट कर दी गई थी, तब से लेकर अब तक वहीं पर सब्जी का थोक बाजार लग रहा था। मंगलवार से कंपनी बाजार में इसका संचालन होने लगा है।
मार्च महीने में लॉकडाउन और उसके बाद कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए प्रशासन ने थोक सब्जी मंडी को अप्रैल के पहले पखवाड़े में कंपनी बाजार से प्रतीक्षा बस स्टैंड में शिफ्ट कर दिया था। उस दौरान बसों का आवागमन भी बंद था। जब संक्रमण में राहत मिली और बसों का संचालन शुरू हुआ तो उसके बाद से प्रतीक्षा सब्जी मंडी में व्यापारियों को परेशानी होने लगी। प्रशासन के द्वारा सुबह छह बजे से 10 बजे तक चार घंटे के लिए सब्जी मंडी संचालित करने की अनुमति थी।
इसके बाद फिर बस स्टैंड के भीतर बसों का संचालन शुरू हो जाता था। चार घंटे के दौरान सब्जी बाजार का कारोबार नहीं हो पाता था और इसके कारण व्यापारियों को परेशानी हो रही थी। इस बीच न्यू किसान मित्र व्यापारी संघ की ओर से बढ़ते ठंड को देखते हुए प्रतीक्षा सब्जी मंडी में दोपहर 12 बजे तक सब्जी मंडी का संचालन करने की मांग प्रशासन और निगम से की गई थी। ठंड में सब्जी मंडी का कारोबार देर से शुरू होता था और सुबह 10 बजे तक अपना कारोबार नहीं कर पाते थे।
यहां से मंडी को दूसरी जगह ले जाने पर भी चर्चा होने लगी। प्रशासन और निगम की ओर से सब्जी मंडी के लिए ट्रांसपोर्ट नगर में मंडी के लिए स्थल देखने और वहां बाजार संचालित करने की पहल की गई लेकिन सब्जी व्यापारियों ने ट्रांसपोर्ट नगर में कोई सुविधा नहीं होने के कारण वहां जाने से इंकार कर दिया। व्यापारी संघ ने प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर आग्रह किया था कि या तो उन्हें वापस कंपनी बाजार में सब्जी मंडी का कारोबार संचालित करने की अनुमति दें या फिर ट्रांसपोर्ट नगर में बेहतर सुविधाएं विकसित की जाए।
काफी दिनों तक यह मामला टलता रहा। इधर प्रतीक्षा बस स्टैंड में करीब दो करोड़ की लागत से कांक्रीटीकरण का काम भी इसी वजह से टलता रहा, लेकिन सब्जी मंडी वहां संचालित होने से बाधा थी। इस काम को पूरा करने के लिए सब्जी मंडी को शिफ्ट करना मजबूरी थी। इसके बाद नगर निगम ने एमआईसी में सब्जी मंडी को कंपनी बाजार में शिफ्ट करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। इसके बाद निगम ने मंगलवार से वापस कंपनी बाजार में सब्जी मंडी को संचालित करने के लिए आदेश दे दिया।

अब प्रतीक्षा में शुरू होगा काम
थोक सब्जी मंडी के शिफ्ट होने के बाद अब प्रतीक्षा बस स्टैंड में कांक्रीटीकरण का काम शुरू होगा। यहां की खस्ताहाल स्थिति को देखते हुए करीब दो करोड़ की लागत से नगर निगम के द्वारा कांक्रीटीकरण का काम कराए जाने का प्रस्ताव किया गया था। इसे मंजूरी तो काफी पहले मिल गई थी, लेकिन सब्जी मंडी के संचालन के कारण मामला अटका हुआ था। बीच-बीच में एक-दो बार निर्माण के लिए साजो सामान वहां लाया भी गया, लेकिन मंडी संचालन के कारण काम नहीं शुरू हो पाया। अब सब्जी मंडी के कंपनी बाजार चले जाने के बाद वहां तेजी से कांक्रीटीकरण का काम शुरू होगा।

राहत महसूस कर रहे व्यापारी
नौ महीने बाद वापस कंपनी बाजार में कारोबार शुरू होने से थोक सब्जी व्यापारी अब राहत महसूस कर रहे हैं। अव्यवस्था के बीच महीनों से प्रतीक्षा बस स्टैंड में किसी तरह कारोबार कर रहे व्यापारी अपने पुराने स्थान पर पहुंचकर खुश हैं। सब्जी व्यापार संघ अध्यक्ष काशी केशरी ने बताया कि कई सब्जी व्यापारियों की दुकानें यहां हैं जहां पर वे सब्जियों को सुरक्षित रख सकते हैं। प्रतीक्षा बस स्टैंड में यह व्यवस्था नहीं थी। निगम द्वारा व्यापारियों को यहां भी कोरोना के दिशा निर्देशों का पालन करने की समझाइश दी गई है। भीड़भाड़ में मास्क लगाने और सैनिटाइजर का उपयोग करने को कहा गया है।

Related Posts

Leave a Comment