स्मार्ट मीटर लगेंगे, बढ़ेगा बिजली का बिल

by bharatheadline

जबलपुर। नए साल 2021 में बिजली क्षेत्र में कई बदलाव की तैयारी है। इसमें आम लोगों से जुड़ी बिजली महंगी होगी। बिजली कंपनी ने दाम बढ़ाने मंजूरी ले ली है। इतना ही नहीं नए साल से किसानों को जहां सब्सिडी खाते में पहुंचेगी वहीं उपभोक्ताओं को स्मार्ट मीटर की सौगात भी मिलेगी। इसके अलावा राहत के नाम पर ​मीटर किराए से माफी की सौगात उपभोक्ता को मिल रही है।
दो फीसद बढ़े दाम: बिजली कंपनी ने बिजली के दाम करीब दो फीसद बढ़ाए हैं। जिसके बाद उपभोक्ताओं पर इसका सीधा असर होगा। जनवरी की खपत के आधार पर फरवरी माह में जो बिल मिलेगा उसमें बढ़ी दर लागू होगी। इसमें उपभोक्ता को जो फायदा हुआ है वो मीटर किराया से माफी दी गई है। बिल में हर माह उपभोक्ता को 10 रुपये से 75 रुपये तक मीटर किराया भुगतान करना होता था।
15 हजार स्मार्ट मीटर लगेंगे: पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में नए साल से स्मार्ट मीटर लगाए जाने हैं। पहले चरण में 15 हजार स्मार्ट मीटर लगाए जाने हैं। 10 किलोवाट से ज्यादा लोड वाले उपभोक्ताओं के यहां स्मार्ट मीटर लगाना है। इसके पश्चात अन्य उपभोक्ताओं के लिए मीटर उपलब्ध कराए जाएंगे। स्मार्ट मीटर लगने से उपभोक्ताओं की रियल टाइम रीडिंग और डेटा का आकलन बिजली कंपनी के दफ्तर से हो पाएगा। आने वाले दिनों में बिजली कंपनी अन्य उपभोक्ताओं को भी स्मार्ट मीटर से लैस करेगी। प्रदेश की मध्य क्षेत्र और पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में साल 2019 में ही स्मार्ट मीटर लगाने का काम प्रारंभ हो चुका है। जबकि पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में ये कार्य देरी से प्रारंभ हुआ।
किसानों के खातों में सब्सिडी:
बिजली सब्सिडी को किसानों के खाते में डालने की योजना भी जनवरी माह से प्रारंभ होगी। पहले चरण में प्रदेश के तीन जिले शामिल हुए है। इसमें विदिशा, झाबुआ और सिवनी को शामिल किया है। जहां किसानों के खाते में बिजली सब्सिडी का 90 फीसद सीधे किसानों के वर्चुअल खाते में डाला जाएगा। नए साल से किसानों को बिजली बिल भरने की समस्या होगी। किसानों को पहले बिजली बिल जमा करना होगा। बाद में सब्सिडी की राशि किसानों के खाते में सरकार जमा करेगी।

Related Posts

Leave a Comment