मरीन ड्राईव की आधी सड़क फिर से खोदी गई, लाखों रूपए खर्च करके हुआ था निर्माण, सीएसआर मद का पैसा धूल में उड़ा

by bharatheadline

रायगढ़. एक तरफ तो रायगढ़ में करोड़ो रूपए खर्च करके सौंदर्यीकरण के जरिए शहर को अच्छे नंबर लेने की तैयारी जिला प्रशासन व नगर निगम मिलकर कर रहा है। वहीं दूसरी ओर शहर की एक मरीन ड्राईव की सड़क रातों रात खोद दी गई और यहां लगे बिजली के खंबो को उखाड़कर गायब कर दिया गया है। खोदी गई सड़क से उड़ती धूल केलो नदी के साथ-साथ पार्क में धूल ही धूल नजर आ रही है। इतना ही नही यहां से गुजरने वाले लोग भी मुफ्त का धुल भरा पाउडर का शिकार हो रहे हैं। बताया जाता है कि कुछ साल पहले सर्किट हाउस मार्ग से लेकर नया शनिमंदिर तक की मरीन ड्राईव का निर्माण जिंदल उद्योग द्वारा सीएसआर मद से करवाया गया था और इसमें कई लाख रूपए खर्च करके केलो नदी के किनारे घूमने आने वाले लोगों के लिए पाथवे और शहर की टेªफिक व्यवस्था का दबाव कम करने के लिए सड़क बनाई गई थी जिसे पहले तो अमृत मिशन के तहत खोद दिया गया था और अब कुछ दिन पहले पार्क के पीछे की सड़क को पूरा खोदकर डिवाईडर हटा दिए गए हैं इतना ही नही वहां लगे बिजली के खंबे भी उखाड़कर गायब कर दिए गए हैं। बिजली के लिए बिछाए गए तार को नोच दिया गया है। इस कार्रवाई को लेकर निगम की क्या मंशा है यह तो पता नही चला है लेकिन अचानक की गई इस कार्रवाई से क्षेत्र में प्रदूषण तेजी से फैल रहा है। चंूकि दिन व रात खोदी गई सड़क से उड़ती धूल के चलते आसपास के राहगिर परेशान हैं ही वहीं पार्क में आने वाले लोग भी धूल का शिकार हो रहे है। इतना ही नही किनारे से बहती केलो नदी भी लगातार प्रदूषित हो रही है।
जानकार सूत्र बताते हैं कि इस मरीन ड्राईव का निर्माण कार्य सौंदर्यीकरण का एक बड़ा उदाहरण बनाने के लिए ही कुछ साल पहले पूर्व कलेक्टर अमित कटारिया, मुकेश बंसल की देखरेख में करवाया गया था लेकिन अब अचानक इस सड़क को एक किनारे से न केवल खोद दिया गया बल्कि डिवाईडर को हटाकर वहां के खंबो को भी बेदर्दी से हटा दिया गया है जिससे बिजली के तार भी बुरी तरह खराब हो गए हैं। देखना यह है कि निगम में आयुक्त एवं सभापति की इस लड़ाई के साथ-साथ सत्ता में बैठे अधिकारी व विपक्ष के भाजपाई क्या आवाज उठाते हैं चूंकि मामला जनता की कमाई से होने वाली खर्च से जुड़ा हुआ है और वह भी सीएसआर की राशि के तहत खर्च करना है तो ऐसे में बिना किसी योजना के यह सड़क क्यों खोद दी गई इसका जवाब अधिकारियों को देना चाहिए। यहां यह बताना लाजमी होगा कि दूसरी ओर की मरीन ड्राईव की सड़क डंपरो के चलते गायब हो चुकी है और अब यह मरीन ड्राईव भी गायब करने की योजना तो नही है।

Related Posts

Leave a Comment