ससुरालियों की जान लेने को मछली में मिलाया धीमा जहर, सास-साली की मौत, पत्नी कॉमा में, जानिए इसकी वजह

by bharatheadline

दिल्ली के इंद्रपुरी इलाके में ससुराल वालों को मारने के लिए स्लो पॉइजन ‘थैलियम’ का इस्तेमाल करने के आरोप में दिल्ली के एक बिल्डर को गिरफ्तार किया गया है। ग्रेटर कैलाश निवासी आरोपी बिल्डर की पहचान वरुण अरोड़ा के रूप में हुई है। पुलिस ने उसे बुधवार को गिरफ्तार किया था। पुलिस अब उस स्थान का पता लगाने की कोशिश कर रही है जहां से आरोपी वरुण ने थैलियम खरीदा था।
पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) पश्चिम उर्वीजा गोयल के अनुसार, थैलियम जहर के धीमे प्रभाव के कारण इसका इस्तेमाल पहले राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों को खत्म करने के लिए किया जाता था। डीसीपी ने कहा वरुण ने जब गूगल पर स्लो पॉइजन के बारे में खोज की तो उसे थैलियम के बारे में पता चला था।

मछली में मिलाकर दिया था थैलियम
डीसीपी ने बताया कि 31 जनवरी की रात वरुण ने खाने के लिए मछली बनाई थी और उसमें स्लो पॉइजन थैलियम मिलाया था, लेकिन एक कॉमेडी शो देखने के बाद हंसी के कारण जबड़े में दर्द होने की बात कहते हुए उसने खुद वह मछली नहीं खाई खाई थी। उसने घर के सभी बच्चों को दूध पिलाया था। हालांकि, उसकी पत्नी, ससुर, सास, साली और मेड ने वह मछली खा ली थी।
इसके बाद 3 फरवरी को साली प्रियंका शर्मा बीमार हो गई और बाद में उसकी मौत हो गई। वरुण की पत्नी दिव्या भी अपनी बहन और मां की मौत के बाद मार्च में बीमार पड़ गई।

Related Posts

Leave a Comment