पिता के साथ नमकीन खरीदने जा रही मासूम अचानक हुई गायब, दो घंटे बाद गेहूं के खेत में मिली लाश

by bharatheadline

उत्‍‍‍‍तर प्रदेेश के तुुुुुलसीपुर में मंगलवार देर शाम पिता के साथ गांव में नमकीन खरीदने गई मासूम बच्ची रास्ते से लापता हो गई। दो घंटे बाद उसका शव गेहूं के खेत में पड़ा मिला। पिता ने पुत्री की गला घोंटकर हत्या करने का केस गांव के ही दो लोगों पर दर्ज कराया है। घटना स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत कल्याणपुर के मजरे शिवपुरा में हुई है। पुलिस आरोपितों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। पुलिस के आलाधिकारियों ने घटना स्थल का जायजा लिया है।
शिवपुरा निवासी इंद्रजीत मौर्य उर्फ शैलू ने बताया कि मंगलवार शाम वह अपनी पांच वर्षीय पुत्री आशू को लेकर गांव में नमकीन खरीदने गए थे। लौटते समय आशू रास्ते से गायब हो गई। एक घंटे बाद घर न लौटने पर उसकी खोजबीन शुरू की गई। आशू के गायब होने की बात गांव में जंगल की आग की तरह फैल गई। ग्रामीणों ने भी आशू को खोजना शुरू किया। गांव से करीब सौ मीटर दूर कल्याणपुर निवासी कुन्नू का खेत है, जिसमें गेहूं फसल लगी है। इंद्रजीत मौर्य पुत्री को ढूंढते हुए गेहूं खेत तक पहुंच गए। वहां पुत्री का शव पड़ा देखकर वह चीखने लगे। थोड़ी ही देर में वहां भारी संख्या में ग्रामीण एकत्रित हो गए। बताया जाता है कि आशू के गाल में हलका सा खरोच था। उसके गले में सूजन थी। ऐसा प्रतीत हो रहा था कि उसकी गला दबाकर हत्या की गई हो। इंद्रजीत अपनी पुत्री का शव घर ले आए। पत्नी शारदा देवी पुत्री का शव देखकर बेहोश हो गई। सूचना पाकर एएसपी अरविंद मिश्रा, तुलसीपुर सीओ उदयराज सिंह व प्रभारी निरीक्षक अनिल कुमार सिंह भारी पुलिस बल के साथ गांव पहुंचे। पुलिस अधिकारियों ने घटना के बारे में विस्तृत जानकारी ली। साथ ही घटना स्थल का जायजा भी लिया। देर रात पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल ने तुलसीपुर थाना पहुंचकर घटना के बारे में विस्तृत पूछताछ की।

इंद्रजीत ने भूमि विवाद को बताया हत्या का कारण
इंद्रजीत ने गांव के ही सगे भाई रंजीत व राम सूरत उर्फ पप्पू वर्मा को पुत्री की हत्या में नामजद किया है। उनका कहना है कि करीब पांच साल पहले सगे भाइयों के हाथ खेत बेचा था। बैनामा कराने के बावजूद सगे भाइयों ने पैसा नहीं दिया। इंद्रजीत ने बैनामा निरस्तीकरण के लिए न्यायालय में मुकदमा कर रखा है। उनका कहना है कि पैसा मांगने पर रंजीत व रामसूरत उन्हें जान से मारने की धमकी देते थे। आरोप है कि मुकदमा हारने के डर व बदला लेने के लिए आशू की हत्या की है। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि रंजीत व रामसूरत के विरुद्ध हत्या का केस दर्ज कर मामले की छानबीन की जा रही है। दोनों को थाने लाकर पूछताछ किया जा रहा है। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि प्रकरण में कुछ चौकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद कार्रवाई आगे बढ़ाई जाएगी।

Related Posts

Leave a Comment