पुण्यतिथि पर ओपी जिंदल को दी गई श्रद्धांजलि

by bharatheadline

रायगढ़. जिंदल समूह के संस्थापक श्रीयुत ओपी जिंदल को उनकी 16वीं पुण्यतिथि पर याद करते हुए श्रद्धांजलि दी गई। प्रतिवर्ष इस अवसर पर जिंदल स्टील एंड पाॅवर लिमिटेड में श्रद्धांजलि सभा सहित अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है, लेकिन इस वर्ष कोविड—19 महामारी से जुड़ी सावधानियों को ध्यान में रखते हुए किसी वृहद कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया गया। उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद सभी अधिकारी-कर्मचारियों ने अपने-अपने कार्यस्थल पर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। साथ ही वृद्धाश्रम एवं बच्चों की संस्था उम्मीद में खाद्य सामग्री का वितरण किया गया।31 मार्च को स्व. ओमप्रकाश जिंदल की सोलहवीं पुण्यतिथि के अवसर पर जेएसपीएल रायगढ़ सहित ओपी जिंदल समूह के सभी संस्थानों और संयंत्रों में उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। बुधवार सुबह जेएसपीएल परिसर स्थित श्री जिंदल की प्रतिमा पर कंपनी के सीओओ छत्तीसगढ़ दिनेश कुमार सरावगी एवं सीएचआरओ पंकज लोचन ने माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस अवसर पर श्री सरावगी ने बाबूजी के साथ बिताए गए समय को याद करते हुए कहा कि उन्हें रायगढ़ से बेहद लगाव था। वर्ष 1988 में रायगढ़ आने के बाद वे यहीं के होकर रह गए और अपनी लगन से एक छोटे से कारखाने को दुनियाभर के उद्योगजगत में स्थापित एक बड़ा नाम बनाया। वे जमीन से जुड़े एक ऐसे शख्सियत थे, जिनसे एक बार मिलने के बाद ही उन्हें भूल पाना किसी के लिए संभव नहीं। इस अवसर पर सभी विभाग प्रमुखों ने भी श्री जिंदल को पुष्पांजलि अर्पित की। कोविड-19 महामारी से जुड़ी सावधानियों का ध्यान रखते हुए संयंत्र में किसी वृहद कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया गया। संयंत्र में उपस्थित सभी अधिकारी-कर्मचारी और श्रमिकों ने अपने-अपने कार्यस्थल से ही उन्हें श्रद्धांजलि दी। संयंत्र परिसर स्थित मंदिर में पूरे दिन श्रीमद्भगवतगीता का पाठ किया गया। इसके साथ ही सामुदायिक सरोकारों के साथ श्री जिंदल को याद करते हुए आशा— द होप में उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की गई। यहां श्रवण बाधित अल्का अग्रवाल व तरुण कथाकार ने श्री जिंदल के प्रति अपनी भावनाओं को व्यक्त करते हुए केनवास पर उनकी तस्वीर उकेर उन्हें याद किया। इसके अलावा वृद्धाश्रम कौहाकुंडा, अपना घर मिट्ठूमुड़ा के बुजुर्गों, चक्रधर बाल सदन की बालिकाओं और विशेष बच्चों के संस्थान उम्मीद व नई उम्मीद में भोजन की व्यवस्था की गई। एसएसडी पूंजीपथरा में संयंत्र प्रमुख कौशल शर्मा ने बाबूजी को पुष्पांजलि अर्पित करते हुए उनका स्मरण किया। इस अवसर पर  निशुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। इस दौरान पूंजीपथरा एवं ग्राम तुमीडीह में मधुमेह एवं उच्च रक्तचाप की जाँच सहित निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में डॉ डीएन पुजारी ने अपनी सेवाएं दीं।

Related Posts

Leave a Comment