स्‍टूडियो संचालक हत्‍याकांड: लैब और कैश की खातिर ईंट से कूचकर मार डाला, जंगल में छिपा था कातिल

by bharatheadline

उत्‍तर प्रदेश के महराजगंज के घोड़हवां में हुई स्टूडियो संचालक की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। इस स्टूडियो संचालक जितेन्द्र प्रजापति की 24 मार्च को हत्या का लाश सेफ्टी टैंक में छिपा दी गई थी। ठूठीबारी के नौनिया निवासी जितेन्द्र की हत्या कैश व मिक्सिंग लैब के उपकरणों के लालच में ईंट से कूचकर हुई थी। पुलिस ने सदर कोतवाली के पिपरा बाबू निवासी आरोपी अभिषेक प्रजापति को निचलौल जंगल के वनसप्ती माता के स्थान से गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से पुलिस ने 84 हजार रुपये नगदी और वीडियो मिक्सिंग लैब के सामान भी बरामद किया है। पुलिस के अनुसार आरोपी ने पूछताछ में अपना जुर्म कबूल किया है।
पुलिस कार्यालय में एएसपी निवेश कटियार ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि शुक्रवार की सुबह निचलौल एसओ निर्भय कुमार सिंह को सूचना मिली कि घोड़हवां में जितेन्द्र प्रजापति की हुई हत्या का आरोपी जंगल में सामान के साथ छिपा है। एसआई बृजेश कुमार सिंह, हेड कांस्टेबिल सुभाष गिरी, राजेश पाण्डेय व बृजेश यादव को साथ लेकर एसओ मौके पर पहुंचे तो आरोपी भागने लगा। घेराबंदी कर पुलिस ने पकड़कर पूछताछ की तो उसने अपना नाम अभिषेक प्रजापति निवासी ग्राम पिपराबाबू थाना सदर कोतवाली महराजगंज बताया। उसके पास से 500-500 के 168 नोट, एक यूपीएस, एक डेस्कटॉप, एक की बोर्ड, तीन इअर फोन, एक माउस, केबल तार, ऑडियो मिक्सिंग मशीन, एक बड़ा माइक एक छोटा माइक, एक सोने की अंगूठी बरामद हुई। पुलिस ने हत्या के आरोपी के पकड़े जाने के बाद मृतक जितेंद्र के पिता रमेश, उसकी बहन व बहनोई को सूचना भेज दी।
पुलिस की पूछताछ में अभिषेक ने बताया कि उसने अकेले हत्या को अंजाम दिया था। नगदी व मिक्सिंग लैब की मशीनों को लूटने के लिए उसने पहले से ही योजना बना रखी थी।

अभिषेक की निशानदेही पर खून लगी ईंट मिला
पुलिस की कड़ाई से पूछताछ पर अभिषेक ने बताया कि उसका जितेन्द्र की स्टूडियो पर काफी दिनों से आना जाना था। घटना की रात में वह यहीं पर रुका हुआ था और जितेंद्र के साथ ही रात का भोजन नहीं किया। वह रात में सोते समय जितेन्द्र के शरीर पर ईंट से ताबड़तोड़ वार किया। इससे उसके चेहरे व सिर में गंभीर चोट लगी थी। इतना ही नहीं उसने उसके प्राइवेट पार्ट को भी चोटिल कर दिया था। उसने बताया कि उसने जितेंद्र का हाथ व पांव तथा मुंह भी केबल से बांध दिया और इत्मीनान हो जाने पर उसने शव को टंकी में उसका बिस्तर व कपड़ा डालने के बाद रख दिया था। पकड़े जाने के बाद अभिषेक की निशानदेही पर पुलिस ने खून से सना हुआ ईंट बरामद किया है।

हत्या और लूट के आरोप में भेजा जेल
ठूठीबारी क्षेत्र के ग्राम नौनिया निवासी रमेश प्रजापति का इकलौता पुत्र जितेन्द्र घोड़हवां में किराए का मकान लेकर वीडियो मिक्सिंग लैब संचालित करता था। वह 22 मार्च से ही गायब था। इसके तीसरे दिन तक उसका पता न चलने पर परिजनों ने 24 मार्च को थाने में गुमशुदगी का अभियोग दर्ज किया। इसके कुछ ही घंटों बाद टॉयलेट की टंकी से शव की बरामदगी के बाद मृतक के पिता की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात लोगों के विरुद्ध हत्या का केस दर्ज किया। हत्या के आरोपी की गिरफ्तारी के साथ नगदी व सामान बरामद होने पर पुलिस ने लूट की धारा बढ़ा दी। अब हत्या व लूट की धाराओं में अभिषेक प्रजापति को पुलिस ने जेल भेजा है।

Related Posts

Leave a Comment