मोहब्बत के लिए परिवार वालों से बगावत कर दिल्ली से बरेली पहुंच गई युवती, कचहरी में तैयार करवा रही थी शादी के कागजात और तभी…

by bharatheadline

मोहब्बत के लिये परिवार वालों से बगावत कर सिकंदराबाद से बरेली पहुंची युवती को लेकर कलेक्ट्रेट पर हिन्दू संगठनों के लोगों ने हंगामा कर दिया। उनका आरोप था कि युवती का जबरन धर्म परिवर्तन कराया जा रहा था। इसके बाद लोग कथित आरोपियों को लेकर एसएसपी आफिस आये। इसके बाद महिला थाना पुलिस के हवाले लोगों को किया गया है। सिकंदराबाद की रहने वाली 17 साल की युवती की मुलाकात एक साल पहले फतेहगंज पश्चिमी के अरबाज से सिकंदराबाद में हुई थी।
दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगे। दोनों के बीच निकाह करने की बात तय हो गई। जिस पर लड़की ने अपना परिवार छोड़ दिया और बरेली आ गई। लड़की के लापता होने पर दिल्ली में पुलिस से इसकी शिकायत की गई। जिस पर लड़की की लोकेशन बरेली में मिली। सोमवार को अरबाज के माता-पिता कचहरी में उसके निकाह के कागज तैयार करवा रहे थे। इसकी खबर हिन्दू संगठनों को लग गई। हिन्दू संगठनों के युवकों को देखकर अरबाज मौके से फरार हो गया। लोगों ने अरबाज के मां और पिता को युवती के साथ पकड़ लिया। बाद में उन्हें एसएसपी आफिस ले जाया गया। अरबाज के मां और पिता ने लड़की को पहचानने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि वह एक मुकदमे में जमानत के सिलसिले में कचहरी आये थे।

मेरे मां बाप नहीं, मर्जी से कर रही हूं शादी
हिन्दू संगठनों के लोग युवती को लेकर एसएसपी आफिस पहुंचे। वहां महिला थाना पुलिस को बुलाया गया। पुलिस के सामने युवती ने कहा कि वह अपनी मर्जी से शादी कर रही है। उसके माता पिता की मौत हो चुकी है। वह अरबाज से प्यार करती है। उसकी शादी नहीं हुई तो वह मर जायेगी। उसकी मौत के जिम्मेदार वह लोग होंगे जो उसकी शादी में रुकावट पैदा कर रहे हैं।
महिला थाना इंस्पेक्टर छवि ने बताया कि लड़की और अरबाज के माता पिता को हिरासत में लिया गया है। लड़की की गुमशुदगी दिल्ली में दर्ज है। दिल्ली पुलिस को इसकी सूचना दी गई है। दिल्ली पुलिस ही मामले में कार्रवाई करेगी।

Related Posts

Leave a Comment