फैक्ट्री से निकली 15 लाख कीमती 30 टन सरिया ट्रक समेत हुई गायब,मामला थाने में आने के बाद 24 घंटे के भीतर चक्रधरनगर पुलिस आरोपी को पूंजीपथरा क्षेत्र से मय माल की गिरफ्तार

by bharatheadline


शातिर आरोपी दूसरे ट्रक के कागजात से माल ट्रक में लोड़ कर हुआ था रफू चक्कर
आरोपी पूर्व में चोरी के मामले में कोतवाली, तमनार, कुनकुरी, सुंदरगढ़ में हुआ है चालान
रायगढ़।
चक्रधरनगर पुलिस ने सोमवार को पूंजीपथरा थानाक्षेत्र से ट्रक ड्रायवर को मय ट्रक में लोड 30 टन डज् ब्लेड्स सहित गिरफ्तार कर थाना लाया गया, जिसे आज न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है। आरोपी ट्रक ड्रायवर द्वारा नटवरपुर मां मणि इंडस्ट्रीज प्राइवेट लिमिटेड चक्रधरनगर फैक्ट्री से 17 अपै्रल को ट्रक में 30 टन एमटी सरिया लोड़कर रायपुर के लिये निकला था जो रायपुर न जाकर लोहा को अवैध तरीके से बिक्री के लिये पूंजीपथरा में ग्राहक तलाश करते वक्त पकड़ा गया ।
इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार 18 अपै्रल को घटना के संबंध में मां मणि फैक्ट्री के मैनेजर हरेंद्र प्रसाद पिता राम प्रयोजन राय उम्र 45 वर्ष निवासी रुक्मणि विहार थाना कोतवाली रायगढ़ द्वारा लिखित आवेदन देकर रिपोर्ट दर्ज कराया गया जिसके अनुसार रायपुर उरला स्थित जय अंबे इस्पात प्राइवेट लिमिटेड एवं आर.एस. स्टील उद्योग को माल भेजने का ऑर्डर मिलने पर रायगढ़ भगवानपुर स्थित महामाया ट्रांसपोर्ट एंड ट्रेडर्स से संपर्क कर बात किए थे जिनके द्वारा ट्रक क्रमांक सी.जी. सीजी-13 एडी 3917 को रायपुर माल भेजने के लिए फैक्ट्री भेजे थे। ट्रक के फैक्ट्री आने पर ट्रक में आरएस उद्योग रायपुर के लिये 19.690 एमएम ब्लेड्स कीमती 9,53,788 एवं जय अंबे इस्पात प्राय. लिमि.उरला रायपुर के लिये 10.35 डज् कीमती 5,13,581 कुल 30.040 डज् एमएस ब्लेडस कीमती 14,67,369 का लोड़ किया गया जिसे 17 अपै्रल की दोपहर करीब 12ः30 बजे ड्रायवर फैक्ट्री से लेकर निकला था । ट्रांसपोर्टर फैक्टरी में कॉल कर बताया कि माल रायपुर नहीं पहुंचा है और ड्राइवर का मोबाईल बंद है। मैनेजर के लिखित आवेदन पर थाना चक्रधरनगर में वाहन चालक एवं ट्रांसपोर्टर के विरुद्ध धारा 407, 34 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया।
पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह के मार्गदर्शन पर थाना प्रभारी निरीक्षक अभिनवकांत सिंह द्वारा थाने से अलग-अलग टीमें ट्रक एवं ट्रक ड्रायवर की पतासाजी के लिये रवाना किया। इसी दरम्यान टीआई चक्रधरनगर को मुखबिर से एक व्यक्ति द्वारा पूंजीपथरा के पास लोहा बिक्री के लिये ग्राहक तलाश करने की सूचना दिये जाने पर टीआई द्वारा थाने से स्टाफ पूंजीपथरा भेजे। स्टाफ द्वारा पूंजीपथरा-तमनार रोड़ आमाघाट के पास संदेही ट्रक ड्रायवर को पकड़े। ट्रक में अलग नंबर प्लेट लगा हुआ था। चक्रधरनगर स्टाफ द्वारा संदेही को हिरासत में लेकर ट्रक सहित थाना लाया गया। संदेही से पूछताछ करने पर अपना नाम राम सिंह सिदार पिता बरतराम सिदार उम्र 35 वर्ष निवासी बुडिया डिपापारा थाना तमनार बताया कड़ी पूछताछ में रामसिंह सिदार बताया कि वह ट्रक ड्राइवर है, पिछले साल नवंबर 2020 को प्रदीप कुमार यादव की ट्रक क्रमांक सीजी-14 एमएल 5370 को किराए में लिया था जिसे स्वयं चलाता था, पूर्व में खरसिया में इसी ट्रक चला रहा था जहां इसने अपने साथी ड्राइवर महेन्द्र तिवारी के जानकारी के बिना उसके ट्रक क्रमांक सीजी-13 एडी 3917 का रजिस्ट्रेशन कागजात की छायाप्रति रख लिया था । रामसिंह सिदार अपने कर्ज व ट्रक का किराया रूपये दे नहीं पाने के कारण उसने अपने ट्रक सीजी 14 एमएल 5370 के ऊपर पेंट कर सीजी-13 एडी 3917 लिख दिया । दिनांक 17 अपै्रल को मां मणि फैक्ट्री पहुंचकर सीजी-13 एडी 3917 का रजिस्ट्रेशन की छायाप्रति जिसे पहले से रखा था , दिखाकर फैक्ट्री से गाड़ी में माल रोड कराया और ड्राइवर रामसिंह फैक्टरी से महामाया ट्रांसपोर्ट के मुंशी से मोबाईल पर बात करा दिया कि ट्रांसपोर्ट से यही गाड़ी को भेंजे हैं । फैक्ट्री से निकलने के बाद पकड़ में नहीं आने का विचार कर ट्रांसपोर्टर जाकर बिल्टी बनाने का प्रयास किया। ट्रांसपोर्ट आफिस में जब वाहन के ओरिजिनल कागजात रामसिंह से मांगे तो पकड़े जाने के डर से रामसिंह सिदार वहां से भाग गया और लोहा बिक्री के लिए ग्राहक ढूंढ रहा था जिसे चक्रधरनगर पुलिस पूरे माल समेत गिरफ्तार कर ली । आरोपी ड्रायविंग लायसेंस, गाड़ी के कागजात जप्त कर धोखाधड़ी के संबंध में धारा 420 भादवि जोड़ी गई है। आरोपी को बीती रात्रि गिरफ्तार कर आज रिमांड पर भेजा गया है । आरोपी को पूर्व थाना कोतवाली सुन्दरगढ़ (ओडिशा), थाना कुनकुरी(जशपुर), सिटी कोतवाली रायगढ़ एवं थाना तमनार द्वारा चोरी के अपराध में गिरफ्तार कर चालानी कार्यवाही की गई है।

Related Posts

Leave a Comment