पतंजलि योगपीठ में 13 दिन में 83 कोरोना संक्रमित मिले, बाबा रामदेव बोले-सब झूठ है

by bharatheadline

शहरी इलाकों से निकल अब कोरोना संक्रमण ने पतंजलि योगपीठ से जुड़े संस्थानों को भी चपेट में लेना शुरू कर दिया है। जहां बीते डेढ़ माह में कुल 115 लोगों में कोरोना की पुष्टि हो चुकी है। वहीं महज 13 दिनों के भीतर ही 83 लोगों को कोरोना ने अपने संक्रमण का शिकार बना लिया है। उधर, बाबा रामदेव ने स्वास्थ्य विभाग के बयान को सिरे से खारिज करते हुए कहा है कि पतंजलि के किसी भी संस्थान में एक भी कोरोना रोगी नहीं है। योग और अपनी दवाओं के माध्यम से कोरोना को मात देने का दावा करने वाले योग गुरु बाबा रामदेव के पतंजलि में आखिरकार कोरोना ने न केवल दस्तक दी, बल्कि महज डेढ़ माह के भीतर 115 लोगों को कोरोना पॉजिटिव कर दिया।
स्वास्थ्य विभाग से मिले आंकड़ों के अनुसार 10 जुलाई से 22 जुलाई के बीच पतंजलि योगपीठ में 42, योगग्राम में 28 जबकि आचार्यकुलम में 9 लोगों को कोरोना ने अपनी जद में ले लिया है। सीएमओ डॉ.एसके झा का कहना है कि यह मामले एक साथ या एक दिन में सामने नहीं आये हैं, बल्कि डेढ़ माह में 115 पॉजिटिव तीन अलग-अलग जगह पर मिले हैं। 10 अप्रैल से ज्यादा 83 मामले आये हैं। पतंजलि में इतनी अधिक संख्या में कोरोना संक्रमित आने के बाद स्वास्थ्य विभाग पतंजलि के महत्वपूर्ण लोगों का कोविड टेस्ट कराने की तैयारी कर रहा है। बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण का भी जल्द कोरोना टेस्ट किया जाएगा।

पतंजलि में कोरोना संक्रमण नहीं : बाबा रामदेव
बाबा रामदेव ने स्वास्थ्य विभाग के पतंजलि में आए कोरोना संक्रमण के आंकड़े को सिरे से खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि यह बहुत बड़ा झूठ फैलाया जा रहा है कि कोरोना पॉजिटिव पतंजलि में मिले हैं। जो भी पतंजलि में आ रहे हैं उनका पहले कोरोना टेस्ट किया जा रहा है, उसमें जो पॉजिटिव आते हैं उनको आइसोलेट किया गया है। रामदेव ने कहा कि सरकार काफी अच्छा कार्य कर रही है , जल्द ही कोरोना महामारी से सभी को निजात मिलेगी।

Related Posts

Leave a Comment