कोविड केयर सेंटर में कुर्सियों पर ही सो रहे कोरोना वारियर्स, यह VISUAL उनके संघर्ष की कहानी है

by bharatheadline

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले के कोविड सेंटर से CCTV की एक तस्वीर सामने आयी है। इस तस्वीर में 12 दिनों में पहली बार CCTV कैमरे में हेल्थ स्टाफ को बैठे देखा जा सकता है। साथ ही कोरोना मरीज भी आराम कर रहे है। यह तस्वीर अप्रैल माह की सबसे ज्यादा सुकून देने वाली है।
पहली बार ऐसा हुआ कि शुक्रवार दोपहर 2.30 बजे से 3 बजे के बीच कोई भी मरीज ट्राइज एरिया में नहीं लाया गया। यह ऐसा एरिया रहता है जहां क्रिटिकल मरीजों को लाया जाता है। सेंटर में लगातार ऐसे मरीज आते रहते हैं और यहां के स्टाफ को बिलकुल आराम नहीं मिलता। आज ऐसा हुआ कि कुछ देर कोई मरीज इस सेंटर में नहीं पहुंचा। तब जाकर डॉक्टर कुछ पल के लिए कुर्सी पर ही थोड़ा आराम करने लगे। इनमें से कुछ तो इतने थके हुए थे कि बैठते ही उन्हें नींद लग गई।

CCTV से लगातार हो रही मरीजों मॉनिटरिंग
भिलाई के चंदूलाल चंद्राकर कोविड सेंटर की लगातार मॉनिटरिंग कर रहे नायब तहसीलदार सत्येंद्र शुक्ला ने बताया कि ट्राइज सहित कोविड वार्ड की स्थिति की सतत मॉनिटरिंग CCTV कैमरे के माध्यम से होती है। और 12 दिनों में पहली बार मैंने पाया कि मरीज सो रहे हैं और ट्रायज एरिया में हेल्थ स्टाफ पहली बार सुकून से बैठा है। यह इस बात का संकेत है कि कोरोना वरियर्स ने बड़ी मेहनत की है। और कोरोना संक्रमण को रोकने में मदद मिल रही है।
दुर्ग कलेक्टर डा0 सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने कोविड हॉस्पिटल में सुविधाओं की मॉनिटरिंग की और ऑक्सीजन बेड बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। ऑक्सीजन बेड उपलब्ध होने से बहुत सारे मरीजों को राहत मिली। इसके चलते ही 12 दिनों में पहली बार यह दृश्य देखने मिला है कि ट्राइज एरिया में कोई भी मरीज नहीं देखा गया। जिले में 209 कोरोना वारियर्स लगातार मरीजों की सेवा कर रहे हैं।

कोरोना संक्रमण तेजी से रहा फैला
दुर्ग जिले में कोरोनावायरस का संक्रमण थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। पिछले 7 दिनों में 11860 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं और 155 लोगों की मौत हो चुकी है। लेकिन यह कोरोना संक्रमण के आंकड़े डरा रहे हैं।

Related Posts

Leave a Comment