ऑक्सीजन बेड बढ़ाने का काम युद्धस्तर पर जारी, कलेक्टर ने संभाल रखा है मोर्चा

by bharatheadline

केआईटी के फस्र्ट फ्लोर में मशीन से लिफ्ट कर पहुंचाया जा रहा ऑक्सीजन सिलेंडर
केआईटी 200, मेडिकल कॉलेज 60, लोइंग 30, लैलूंगा 20, सारंगढ़ 50 ऑक्सीजन बेड होने जा रहा है शुरू
सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में भी 20-20 ऑक्सीजन बेड तैयार करने के निर्देश
रायगढ़।
जिले में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड व इलाज सुविधाएं, मेडिकल स्टाफ बढ़ाने का काम भी उसी तेजी से किया जा रहा है। कलेक्टर श्री भीम सिंह ने इसके लिए खुद मोर्चा संभाल रखा है। रायगढ़ शहर में संचालित शासकीय कोविड अस्पतालों के साथ विकासखंड स्तरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में भी ऑक्सीजन बेड बढ़ाये जा रहे हैं। केआईटी स्थित कोविड केअर सेंटर में ऑक्सीजन बेड बढ़ाने का काम युद्धस्तर पर शुरू कर दिया गया है। केआईटी के फस्र्ट फ्लोर में 100 ऑक्सीजन बेड के साथ प्रशासनिक भवन में भी शुरुआत में 60 बेड शुरू करने जिसे बढ़ाते हुए 100 तक करने के निर्देश कलेक्टर श्री सिंह ने दिए। इस प्रकार केआईटी में कुल 200 ऑक्सीजन बेड बढ़ाये जा रहे हैं। पहले से ही यहाँ 100 ऑक्सीजन बेड मौजूद है। बढ़े हुए बेड के साथ यहां 300 ऑक्सीजन सुविधा युक्त बेड की व्यवस्था हो जाएगी।

केआईटी के फस्र्ट फ्लोर में मशीन से लिफ्ट कर पहुंचाया जा रहा ऑक्सीजन सिलेंडर
केआईटी के ग्राउंड फ्लोर 100 आक्सीजन बेड संचालित है। इसे बढ़ाते हुये फस्र्ट फ्लोर पर भी ऑक्सिजनेटेड वार्ड तैयार करने का निर्णय लिया गया। भारी ऑक्सीजन सिलेंडरों को वहां तक तेजी से पहुंचाने की चुनौती को देखते हुए कलेक्टर श्री सिंह के निर्देश पर नगर निगम से स्काई लिफ्ट और जिंदल से हायड्रा मशीन को लगाया गया है। सिलेंडर्स को उपर चढ़ाने और वार्ड तक ले जाने के लिए भी मैन पावर लगाए गए हैं। कलेक्टर श्री भीम सिंह आज इसके निरीक्षण में पहुंचे। वहां उन्होंने इस पूरी प्रक्रिया का अवलोकन किया और संबंधित अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए। जिससे सिलेंडर आसानी व सुरक्षित तरीके से फस्र्ट फ्लोर में तेजी से पहुंचायी जा सके। इसके साथ ही केआईटी के प्रशासनिक भवन में भी ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था करने कलेक्टर श्री सिंह ने निरीक्षण किया। उन्होंने वहां फौरी तौर पर 60 बिस्तर लगाने के निर्देश दिए। जिसे बढ़ाते हुए 100 तक किया जाएगा। इसके लिये उन्होंने बेड, लाइट, पंखे, कूलर इत्यादि की पर्याप्त मात्रा में व्यवस्था करने के निर्देश सभी संबंधित अधिकारियों को दिए।
इसी प्रकार मेडिकल कॉलेज में ग्राउंड फ्लोर में 60 बेड लगाए जा चुके हैं। जिसके निर्देश कलेक्टर श्री सिंह ने पिछले दिनों अपने निरीक्षण के दौरान दिए थे। आज कलेक्टर श्री सिंह ने यहां का भी निरीक्षण कर तैयारियों का जायजा लिया। इनके साथ ही उन्होंने मेडिकल कॉलेज में अतिरिक्त बेड बढ़ाने के लिए वहां के अन्य वार्डों का निरीक्षण कर कोविड प्रोटोकॉल के अनुसार उपलब्ध सुविधाओं का भी जायजा लिया। उन्होंने मेडिकल कॉलेज के ग्राउंड फ्लोर में सीजीएमएससी के ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट के सपोर्ट से 24 बेड को जल्द चालू करने के लिए विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया।
इस दौरान एडीएम श्री राजेन्द्र कटारा, सीएमएचओ डॉ.एस.एन.केसरी, आयुक्त नगर निगम श्री आशुतोष पाण्डेय, ज्वाइंट कलेक्टर श्रीमती नम्रता डोंगरे, डिप्टी कलेक्टर श्री पी.के.गुप्ता, ईई पीडब्लूडी खांबरा, जिला शिक्षा अधिकारी श्री आर.पी.आदित्य, मेडिकल कालेज के प्रभारी डीन डॉ.यास्मीन खान, मेडिकल के अधीक्षक डॉ.मनोज मिंज व मेडिकल कालेज के अन्य चिकित्सकीय स्टॉफ सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

दूसरे जगहों पर भी बढ़ा रहे हैं ऑक्सीजन बेड
इस दौरान कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि ऑक्सीजन बेड के लिए परसदा के 36 बेड जिंदल हॉस्पिटल, लोइंग के 30 बेड, लैलूंगा में 25 बेड को तत्काल चालू करने के निर्देश दे दिये गए हैं। इसके साथ ही सारंगढ़ में 50 बेड भी चालू किया जा रहा है। जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में 20-20 ऑक्सीजन बेड तैयार करने निर्देश सीएमएचओ डॉ.केसरी को दिये हैं। जिससे ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले मरीजों को वहां तात्कालिक राहत मिल सके।

ऑक्सीजन बेड वाले अस्पतालों में बढ़ाएं मेडिकल स्टाफ
कलेक्टर श्री सिंह ने इसके साथ ही डॉक्टर्स, नर्सिंग व मेडिकल स्टाफ की संख्या ऑक्सीजन बेड वाले अस्पतालों में जरूरत के अनुसार बढ़ाने के निर्देश दिये। उन्होंने वार्डबॉय की संख्या बढ़ाने के लिए कहा। शासन स्तर से 20 डॉक्टर्स को जिले में नियुक्त किया गया है। कलेक्टर श्री सिंह ने उनसे संपर्क कर तकाल जॉइनिंग करवाने के निर्देश एडीएम श्री राजेन्द्र कटारा को दिया। इसके साथ ही जिले में संचालित शासकीय व निजी नर्सिंग कॉलेज की छात्राओं की भी ड्यूटी कोविड अस्पतालों में लगाने के निर्देश सीएमएचओ को दिए।

कोविड अस्पतालों में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने के निर्देश
कलेक्टर श्री सिंह के निरीक्षण के दौरान अस्पतालों में परिजनों के प्रवेश करने और एमसीएच में तोड़ फोड़ की बात सामने आई। कलेक्टर श्री सिंह ने एमसीएच का निरीक्षण किया। उन्होंने अस्पतालों की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने के निर्देश पुलिस अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि परिजनों को अस्पताल के भीतर नहीं जाने दिया जाए। इससे परिजनों में भी संक्रमण का खतरा होता है।

परिजनों से की बात

निरीक्षण के दौरान अस्पताल के बाहर कुछ परिजन भी मौजूद थे। कलेक्टर श्री सिंह ने उनसे बात कर उनके भर्ती परिवारजनों का हाल चाल जाना। इस दौरान उन्होंने अस्पताल प्रबंधन को अपने हेल्पलाइन नंबर्स को हमेशा चालू रखने के निर्देश दिए।

Related Posts

Leave a Comment