कोरोना का कहरः घर में चल रही थीं शादी की रस्में, बारात से दो दिन पहले इंजीनियर की मौत

by bharatheadline

कोडरमा जिले के जयनगर प्रखंड के ग्राम सतडीहा में एक इंजीनियर की शादी से दो दिन पहले मौत हो गई। बताया जाता है कि वह कोरोना संक्रमित थे। मृतक मंजीत यादव की 30 अप्रैल को शादी होने वाली थी। इसी को लेकर दूल्हा-दुल्हन दोनों घरों में शादी की तैयारी जोरों पर थी। दूल्हे की मौत हुई तो दोनों परिवारों में मातम छा गया। परिवारजनों के अनुसार मृतक मंजीत यादव हैदराबाद के एक निजी कंपनी में इंजीनियर थे।
बुधवार को उसके लग्न बांधने का मुहूर्त था। बताया जा रहा है कि वे कुछ दिन पूर्व शादी के लिए घर आए थे। उनके पिता विजय यादव धनबाद में नौकरी करते हैं, जहां मनजीत दो दिन पूर्व कुछ खरीदारी के लिए गए थे। इसी बीच उनकी तबीयत खराब हुई।
मंगलवार को वह अपने घर आए और यहां कोरोना जांच में पॉजिटिव पाए गए। इसी बीच मंगलवार को हालत बिगड़ने पर तिलैया स्थित एक निजी क्लीनिक में भर्ती कराया गया था। जहां बुधवार की शाम मौत हो गई।

11 कोरोना मरीजों की हुई मौत, 364 हुए संक्रमित
कोडरमा जिले में कोरोना से मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इससे कोविड अस्पताल में इलाज की व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं। बुधवार को ज़िले में इलाजरत 11 मरीजों को मौत इलाज के दौरान हो गई। यह एक दिन में सर्वाधिक है। कोरोना के दूसरे में फेज में अबतक 55 लोगों की मौत हो गई है। वहीं बुधवार को सदर अस्पताल सहित विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों में हुई जांच में 364 नये मामले सामने आए हैं।
जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. मनोज कुमार ने बताया की 24 घण्टे में ट्रुनेट के द्वारा 288 लोगों के हुई जांच से 143 एंटीजेन के द्वारा 2473 लोगों के जांच में 221 और आरटीपीसीआर के द्वारा 164 लोगों के जांच में सभी का रिपोर्ट नेगेटिव पाया गया। डॉ. मनोज ने बताया की डोमचांच स्थित कोविड अस्पताल, निजी अस्पताल और होम आइसोलेशन में इलाजरत 250 लोग स्वस्थ हुए हैं।
सीएस डॉ. एबी प्रसाद ने बताया की ज़िले में कोरोना की रफ्तार तेज़ी से बढ़ी है, वहीं स्वस्थ होने वालों की संख्या भी बेहतर है। ज़िला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग स्वास्थ्य सेवा को और बेहतर बनाने के लिए प्रयासरत है। वहीं अब तक ज़िले में मरने वालों की कुल संख्या 84 हो गई है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुये कहा की अगर शर्दी, बुखार, खांसी, गले मे तकलीफ हो रही हो या सांस लेने में तकलीफ हो तो बिना देर किए कोविड जांच के साथ सीटी स्कैन अवश्य कराएं, ताकि समय रहते इलाज़ किया जा सके।

Related Posts

Leave a Comment