टीकाकरण पहले ही दिन जनपद सी.ई.ओ की मनमानी।

by bharatheadline

सारंगढ़ : वर्तमान में पूरा देश कोरोना के दूसरे लहर से जूझ रहा है,ऐसे में केंद्र सरकार जल्द से जल्द लोगो तक कोरोना
के टीका को पहुंचाने का लगातार प्रयास कर रही हैं। वही छत्तीसगढ़ सरकार ने कोरोना टिका लगाने के लिए एक कटेगरी तैयार की है। छत्तीसगढ़ सरकार के अनुसार सर्व प्रथम अंत्योदय राशन कार्ड धारियों को वैक्सीन लगनी है।
मगर सारंगढ़ में कोई गरीब नही रहता है क्योंकि गरीब कौन है इसका चयन करने का अधिकार सिर्फ जनपद CEO को दिया गया है जो अपने चयनित गरीब को वेक्सिनेशन के केंद्र में बैठाए है बाकी शहर के जो गरीब तबके के है जो दोपहर 12 बजे से इस आस में बैठे है कि उनका नाम भी रजिस्टर हो जाये और उन्हें वेक्सिनेशन का लाभ मिल सके, मगर दोपहर होते होते सारंगढ़ जनपद CEO ने पूरा नियम ही पलट दिया जो गरीब सुबह से दोपहर , दोपहर से शाम तक इस आस में आये थे कि उनका वेक्सिनेशन हो जाये मगर सारंगढ जनपद बैठे जनपद CEOने तो पूरा माज़रा ही बदल दिया एक्का दुक्का को हटा कर बात करें तो CEO साहब ने अपने द्वारा चयनित करके लाये गरीबो को वेक्सिनेशन के लिए हाथो हाथ रजिस्ट्रेशन करवा कर अपनी वह वही लाइव कार्यक्रम में लूटने चयनित लोंगो को बैठा दिया मगर जैसे ही हमारी मीडिया की टीम इस मामले को कवरेज के लिए पहुंची तो वहां भी CEO साहब ने कवरेज को मना कर दिया और कहा कि कलेक्टर का आदेश है कि जब तक टीकाकरण की आज की प्रकिया की शुरुवात नही हो जाती तब तक यह कवरेज मन है उसके जो भी देखने को मिला उससे तो यही लगता है कि CEO साहब यहां अपनी वह वही लूटने वेक्सिनेशन को लेकर इतनी ज्यादा अव्यवस्था बना रखी थी की यहां न तो कोई सोशल डिस्टेंस का पालन हो रहा था न कोई दूरी बस वेक्सिनेशन के रजिस्ट्रेशन के लिए काउंटर में गांव से लाये गरीबो को इक्कठा कर दिया था शुरुवात में वाहवाही लूटने सारे नियम और कायदे भी भूल गए जनपद सीओ वही सारंगढ़ के गरीब तबके के लोंगोके लोग भी जनपद सीओ की मनमानी रवैया पर कोसते हुए घर को निकल लिए, आपको बता दे कि यंहा 45 से ऊपर को जिन्हें सेकंड डोज लग्न थाउन्हें भी वेक्सीन खत्म का बहाना बना कर लौट दिया टीकाकरण को भी पूरी तरह से रोक दिया खैर CEO साहब ये भूल गए कि कोरोना को हराना है हारना नही है मगर यहां जो आलम थी उससे भीड़ कुछ और ही बयान कर रही है

Related Posts

Leave a Comment