अब कर्नाटक के सरकारी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी ने ले ली कोरोना के 22 मरीजों की जान

by bharatheadline

देशभर में कोरोना की वजह से ऑक्सीजन की कमी के बाद मचा हाहाकार हर दिन सैकड़ों लोगों का जान ले रहा है। अब कर्नाटक के चमराजानगर जिले के एक अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के कारण कोरोना वायरस के कम से कम 22 मरीजों की मौत हो गई है। चमराजानगर जिला बेंगलुरु से करीब 175 किलोमीटर दूर है। कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर हालात का जायजा लेने चमराजानगर रवाना हो गए हैं।
सूत्र ने बताया, ‘ऑक्सीजन की कमी थी और पड़ोस के मैसूर जिले से आने वाली ऑक्सीजन भी समय पर नहीं पहुंची।’ यह हादसा जिले के एक सरकारी अस्पताल में हुआ है। बता दें कि इस हादसे के बाद कर्नाटक सरकार के उस दावे पर एक बार फिर से सवाल खड़े हो रहे हैं जिसमें उन्होंने कहा था कि राज्य में ऑक्सीजन, दवाओं, वैक्सीन और यहां तक की श्मशान घाट में जगह की भी कोई कमी नहीं है। वहीं, जमीनी हकीकत कुछ और ही बयां कर रही है। कोरोना से सबसे बुरी तरह प्रभावित राज्यों में शामिल कर्नाटक में बेड्स, ऑक्सीजन और दवाओं की कमी के कारण कई लोगों की मौत हो गई है। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने सोमवार को वरिष्ठ अधिकारियों से बात की है और उन्हें सभी जरूरी आवश्यकताओं की आपूर्ति का भरोसा दिलाया है। मुख्यमंत्री ने मंगलवार को कैबिनेट की आपात बैठक भी बुलाई है। बता दें कि रविवार को कर्नाटक में कोरोना वायरस के 37 हजार 733 नए मामले दर्ज हुए हैं तो वहीं 217 लोगों ने कोरोना की वजह से दम तोड़ दिया। इनमें से बेंगलुरु में ही अकेले 21 हजार 149 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में अब तक कोरोना की वजह से 16 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है।

Related Posts

Leave a Comment